शहीद भगत सिंह के क्रांतिकारी विचार | Bhagat Singh Quotes in Hindi

Bhagat Singh Quotes in Hindi, Bhagat Singh in Hindi, Desh Bhakti Quotes in Hindi, Hindi Quotes, Bhagat Singh Thoughts in Hindi, Slogan of Bhagat Singh in Hindi, Motivational Thoughts in Hindi.
Share it:

Quote By Bhagat Singh in Hindi 

भगत सिंह जी के क्रांतिकारी विचार
जब भारत को आजादी मिलने और देशभक्ति की बात होती है। तो भगत सिंह जी का नाम जरुर आता है। भगत सिंह का नाम जिसे सुनते ही हिन्दुस्तानियों में क्रांति और देशभक्ति का ख़ून दौड़ने लगता है। इन्होने भारत को आजादी दिलाने के लिए काफी सारे आन्दोलन में भाग लिया था। आइये आज हम उसी महान देशभक्त के क्रांतिकारी विचारों को जानते हैं।
hindi quotes

Quote 1: क्रांति की तलवार तो सिर्फ विचारो की शान पर ही तेज होती है
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 2: इंसानों को कुचलकर आप उनके विचारो को नही मार सकते।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 3: जिंदगी को तो अपने दम पर ही जिया जाता है, दूसरों के कन्धों पर तो सिर्फ जनाजे उठाये जाते हैं।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 4: मैं एक इंसान हूं और मानव जाति से प्रभावित होने वाले सभी लोग मुझसे जुड़े हुए है।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 5: यदि आप मानते हैं कि एक सर्वशक्तिमान परमेश्वर है, जिसने पृथ्वी या ब्रह्मांड बनाया है, तो कृपया सबसे पहले मुझे बताएं, उसने इस दुनिया को क्यों बनाया? यह दुनिया जो दुःख से भरी है, जहां एक व्यक्ति भी शांति में नहीं रहता; कहाँ है भगवान? वह क्या कर रहा है? क्या वह ये सब देख कर खुश हो रहा है?
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 6: वे मुझे मार सकते हैं, लेकिन वे मेरे विचारों को नहीं मार सकते। वे मेरे शरीर को कुचल सकते हैं, लेकिन वे मेरी आत्मा को कुचलने में समर्थ नहीं होंगे।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 7: प्यार हमेशा आदमी के चरित्र को ऊपर उठाता है यह कभी उसे कम नहीं करता है, प्यार मुक्ति प्रदान करता है।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 8: क्रांति मानवता का एक अतुलनीय अधिकार है स्वतंत्रता सभी का कभी भी न खत्म होने वाला एक जन्मसिद्ध अधिकार है श्रम समाज के वास्तविक अभिनेता है, श्रमिकों के प्रसिद्ध विचार।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 9: हमारे लिए, समझौता का मतलब कभी आत्मसमर्पण नहीं होता है, केवल एक कदम आगे और कुछ आराम बस इतना ही।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 10: निर्दयी आलोचना और स्वतंत्र सोच क्रांतिकारी सोच के दो आवश्यक गुण होते है।
Bhagat Singh भगत सिंह
thoughts in hindi

Quote 11: अपने व्यक्तित्व को पहले कुचल दें, निजी आराम के सपने से मुक्त हो जाएँ और फिर काम करना शुरू करें, इंच से इंच आपको आगे बढ़ना होगा। इसे साहस, तप और दृढ़ संकल्प की आवश्यकता है। कोई कठिनाई और कोइ विपत्ति आपकी हिम्मत नहीं तोड़ सकती । कोई विफलता और धोका आपको निराश नहीं करेगा। ये सब चीज़ें आपके अंदर की क्रन्तिकारी इच्छाशक्ति को खत्म कर सकती हैं लेकिन कष्टों और त्यागों की परीक्षा के माध्यम से आप जीत हासिल करेंगे। और ये जीत क्रांति की बहुमूल्य संपत्ति होगी। भगत सिंहमहान आवश्यकता के समय, हिंसा अनिवार्य है।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 12: राख का हर एक छोटे से छोटा अणु भी मेरी गर्मी के साथ गति में है, मैं तो ऐसा पागल हूँ की मैं जेल में भी आज़ाद हूँ।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 13: लोग आम तौर पर चीजों की स्थापना के क्रम में आदी हो जाते हैं और बदलाव के विचार पर कांपना शुरू कर देते हैं। यही वह सुस्त भावना है जिसे हमे क्रांतिकारी भावना से बदलना होगा।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 14: किसी को अपने शब्दों में क्रांति; शब्द की व्याख्या नहीं करनी चाहिए। इस शब्द के विभिन्न अर्थ और महत्त्व हैं, उन लोगों के हित के अनुसार जो इसका इस्तेमाल करते हैं या उनका दुरुपयोग करते हैं। शोषण की स्थापित एजेंसियों के लिए यह रक्त सनी हुई डर की भावना है और क्रांतिकारियों के लिए यह एक पवित्र वाक्यांश है।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 15: क्रांति की भावना को हमेशा मानवता की आत्मा में भरा हुआ होना चाहिए, ताकि उन्नति रोधक बल अपने अनन्त भविष्य को जांचने के लिए इकट्ठे न हों।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 16: मनुष्य केवल तब ही कार्य करता है जब वह उसकी कार्रवाई के न्याय के बारे में सुनिश्चित होता है जैसा की हम विधान सभा में बम फेकने को लेकर थे।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 17: कानून की पवित्रता केवल इतनी लंबी रखी जा सकती है क्योंकि यह लोगों की इच्छा का प्रदर्शन है।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 18: मैं पूछता हूं कि आपका सर्वशक्तिमान परमेश्वर किसी व्यक्ति को क्यों नहीं पकड़ता जब वह एक पाप या अपराध करने के बारे में सोचते है यह भगवान के लिए बच्चों का खेल है। उसने युद्ध के भगवानों को क्यों नहीं मार दिया? उसने उनके दिमाग से युद्ध के जोश को क्यों नहीं हटाया? इस तरह से भगवान महान आपदा और आतंक से मानवता को बचा सकता था।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 19: यदि बधिरों को सुनाना है, तो आवाज बहुत जोर से होनी चाहिए। जब हम लोगों ने बम गिराया था, तो हमारा इरादा किसी को मारने का नहीं था। हमने ब्रिटिश सरकार पर हमला किया था और ब्रिटिशों ने भारत छोड़ कर उसे मुक्त कर दिया।
Bhagat Singh भगत सिंह
motivational thoughts in hindi

Quote 20: मैं जोर देता हूं कि मैं महत्वाकांक्षा, आशा और जीवन के पूर्ण आकर्षण से भरा हुआ हूं। लेकिन जरूरत के समय मैं सभी को त्याग कर सकता हूं, और यह वास्तविक बलिदान है।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 21: जीवन का उद्देश्य मन को नियंत्रित करने के लिए नहीं है, बल्कि इसे समान विकसित करना है; छुटकारा प्राप्त करने के लिए नहीं है, बल्कि इसका सबसे अच्छा उपयोग करने के लिए हैं।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 22: मेरे सीने में जो जख्म है वो सब फूलो के गुच्छे है हमें तो पागल ही रहने दो हम पागल ही अच्छे है
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 23: प्रेमी, पागल और कवियां एक ही सामान से बने हुए हैं।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 24: जब आक्रामक रूप से लागू किया जाता है तो बल; हिंसा; होता है और इसलिए, नैतिक रूप से अनुचित है, लेकिन जब किसी वैध कारण के आगे उपयोग किया जाता है, तो इसे नैतिक समर्थन मिलता है।; भगत सिंहजन संघर्ष के लिए, अहिंसा आवश्यक है।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 25: जो व्यक्ति भी विकास के लिए खड़ा है उसे हर एक रुढ़िवादी चीज की आलोचना करनी होगी, उसमे अविश्वास करना होगा तथा उसे चुनोती देनी होगी।
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 26: बुराई इसलिए नहीं बढती की बुरे लोग बढ़ गए है बल्कि बुराई इसलिए बढती है क्योंकि बुराई सहन करने वाले लोग बढ़ गये है
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 27: ज़िन्दगी तो अपने दम पर ही जी जाती हे … दूसरो के कन्धों पर तो सिर्फ जनाजे उठाये जाते हैं
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 28: प्रेमी, पागल, और कवी एक ही चीज से बने होते हैं
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 29: राख का हर एक कण मेरी गर्मी से गतिमान है मैं एक ऐसा पागल हूँ जो जेल में भी आज़ाद है
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 30: क्रांति की तलवार तो सिर्फ विचारो की शान पर ही तेज होती है
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 31: मेरा एक ही धर्म है देश की सेवा करना है
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 32: मैं एक मानव हूँ और जो कुछ भी मानवता को प्रभावित करता है उससे मुझे मतलब है
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 33: हमारे लोगो को मारकर वो कभी भी हमारे विचारो को नहीं मार सकते
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 34: दिल से निकलेगी न मरकर भी वतन की उलफत; मेरी मिट्टी से भी खुशबू-ए वतन आएगी
Bhagat Singh भगत सिंह

Quote 35: हर कण राख का मेरी ऊर्जा से चलायमान है और मैं एक ऐसा पागल हूँ जो जेल में भी आजाद है
Bhagat Singh भगत सिंह
यह भी पढ़ें:-

Note: - आप अपने comments के माध्यम से बताएं कि शहीद भगत सिंह के क्रांतिकारी विचार आपको कैसा लगा।
Share it:

Hindi Quotes

Post A Comment:

0 comments: